Begusarai Breaking News

पीरी बाजार थाना क्षेत्र के अंतर्गत अभपुर स्टेशन पर एक बड़ी हादसा से महिला की मौत।

लखीसराय से संवाददाता अनुराग आनंद की रिपोर्ट

लखीसराय (पीरीबाजार):-जिलें के पीरी बाजार थाना क्षेत्र के अंतर्गत अभयपुर रेलवे स्टेशन पर सुबह-सुबह एक बड़ी हादसा होने से मनिहार चौक के निवासी सरवण ठाकुर की पत्नी 30 वर्षीय महिला सुमन देवी की मौत हो गई। घटनास्थल पर अभयपुर रेलवे स्टेशन के अधिकारी ने मृतक परिजनों तक सूचना पहुंचाने का कार्य किया है सूचना मिलते ही परिजनों की रो-रो कर बुरा हाल हो गया इस घटना से गांव में हाहाकार मच गया और मातम सा छा गया। मृतक का घर अभयपुर रेलवे स्टेशन से 200 मीटर की दूरी में पड़ता है।

परिजनों को घटनास्थल पर आने के बाद डेड बॉडी को अपने घर ले गए। घर ले जाने के बाद इसकी सूचना मृतक की पती सरवन ठाकुर को दिया गया। सरवन ठाकुर इस घटना को सुनते ही कोलकाता से अपने आवास में आने के लिए चल दिए थे। इस दरमियान में मृतक के आवास में जमालपुर रेल थानाध्यक्ष सतीश कुमार पहुंच कर घटना के बारे में इंक्वायरी करके डेड बॉडी को पोस्टमार्टम में ले जाने की बात कर रहा था मगर मृतक के भाई और नहियर,ससुराल वालों का कहना था कि पोस्टमार्टम कराने से कोई फायदा नहीं है जो होने का था अब हो गया। ऐसे भी मृतक के नाम से किसी भी प्रकार के इंश्योरेंस नहीं बना हुआ है जिससे कि हमें द संस्कार के लिए किसी प्रकार का सहयोग मिल सके। मृतक के परिजनों जिद और अकड़ देखते हुए।

आखिरकार जमालपुर रेलखंड थाना अध्यक्ष सतीश कुमार ने बिना पोस्टमार्टम कराए हुए दाह संस्कार करने का आदेश दे दिया गया है। परिजनों ने बताया कि सुमन देवी सुबह 7:45 में घर से निकली थी वो अपनी ननद के पास साग पहुंचाने के लिए लखीसराय जा रही थी इसी दरमियान में अभयपुर रेलवे स्टेशन में रेलवे पटरी के माध्यम आर-पार हो रही थी इसी बीच आखरी बार अपनी ननंद से फोन पर बात चीत करते हुए। प्लेटफार्म नंबर-2 में जा रही थी। इसी बीच देखते ही देखते पलक झपकते ही ट्रेन सामने आ गई। जिससे कि सुमन देवी काफी घबरा गई थी घबराहट से उनके हाथों से मोबाइल छूटकर नीचे गिर गया जिसको लेकर मालगाड़ी ट्रेन की चपेट में आ गई। उनकी मौत हो गई इस घटना स्थल पर मौके पर मौजूद जमालपुर रेलखंड थाना अध्यक्ष सतीश कुमार,शोभाचंद पासवान एस आई दरोगा,मनु कुमार सिपाही इस सभी लोगों ने मृतक की बॉडी को पोस्टमार्टम करवाने के लिए परिजनों से आदेश ले कर डेड बॉडी को पोस्टमार्टम करवाना चाहते थे मगर परिजनों की जिद और अकड़ के सामने असफल पाया गया। जिससे कि मृतक की परिजनों को द संस्कार करने का आदेश दे दिया गया। इस घटना के माध्यम से कहीं न कहीं मनिहार चौक ग्रामीण लोगों के लिए एक सबक बनकर रह गया की कभी भी बाइक चलाते हुए या फिर रास्ते में सफर के दौरान यह प्लेट फॉर्म में राह चलते मोबाइल का उपयोग नहीं करना चाहिए क्योंकि कहीं न कहीं आपका जान का दुश्मन मोबाइल फोन भी बन सकता है। सुमन देवी काफी गरीब घर से है अगर ऐसे व्यक्ति के साथ अगर ऐसा घटना होता है तो उनके बच्चों पर क्या बीतता होगा जोकि अभी 4 से 5 साल का एक बेटा और दो बेटियां बिलक-बिलक कर रोते हुए अपनी मां की ममता की आंचल पकड़ कर फूट-फूट कर रो रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.