Bihar Breaking News

भागलपुर बिहार का स्कूल कुत्ते का बना आशियाना यही है विद्या का मंदिर प्रधानाध्यापक के द्वारा मनमानी, जब आए स्कूल मेरी मर्जी, देते हैं स्वास्थ्य का हवाला।

भागलपुर  का यह मामला है स्कूल जिसे विद्या का मंदिर बोला जाता है वही स्कूल कूड़े का दान बन गया है अगर बिहार में स्कूल की स्थिति इसी तरह रही तो बच्चे को विद्या कम और कूड़े का नौकरी जरूर मिल जाएगा एक बात और बताना है बिहार के स्कूल धीरे-धीरे बन रहे हैं कुत्ते का आशियाना बनते नजर आ रहा है यही है विद्या का मंदिर अब हम आपको यह बता दें यह कौन सा क्षेत्र का स्कूल का मामला है सुलतानगंज प्रखंड अंतर्गत तिलकपुर पंचायत, में स्कूल के हेडमास्टर की मनमानी, प्रकाश में आया हैं।


बताते चलें कि तिलकपुर पंचायत के नासोपुर, में प्राथमिक विद्यालय नासोपुर में जहां स्कूल के शिक्षकों के द्वारा बरसों से मनमानी होते आ रहा है वही देखा जाए तो स्कूल के प्रधानाध्यापक की ही रवैया स्कूल के प्रति नजारत है।
बिहार के सुशासन बाबू के राज में जिस तरह स्कूल के शिक्षकों का मनमानी सर चढ़कर तांडव कर रहा है।
देखा जाए तो , वहीं स्कूल में कुत्तों का आशियाना बना हुआ है। शौचालय में किस तरह से गंदगी बदबू दार गंदी फैला रहा था वही नल का भी वही दुर्दशा देखने को मिला।


स्कूल मैं साफ सफाई के लिए हर साल साफ सफाई की राशि उपलब्ध की जाती है फिर भी इस तरह की गंदगी क्यों।
स्कूल के क्लास में ना तो शिक्षक पाया गया। ना ही कार्यालय में प्रधानाध्यापक, जब इसकी जानकारी स्कूल के रसोइया से जानने की कोशिश की तो बताया स्कूल में तीन ही शिक्षक आए हुए हैं।
प्रधाना अध्यापक शारदा सिन्हा से इसकी जानकारी ली तो अपने स्वास्थ्य का हवाला देकर 5 शिक्षकों की गिनती गिना दी।
कोई शिक्षक पूजा करने में मस्त हैं तो कोई अपना धंधा पानी की जुगाड़ में गांव-गांव घूम रहे हैं प्रधानाध्यापक शारदा सिन्हा 1 महीने के स्कूल में 1 घंटे के लिए आते हैं और महीने भर का अटेंडेंस बनाकर फिर रफूचक्कर हो जाती है,जब मीडिया वाले को देखा तो, 16 / 11/2021 की तारीख मेंं आवेदन सामने रख दिया और स्वास्थ्य का हवाला देने लगा।

बात करें बीएलओ की तो जिला अधिकारी एवं निर्वाचन आयोग के द्वारा वोटर लिस्ट में जुड़वाने के लिए, नाम दर्ज कराने के लिए हर रविवार को कैंपिंग किया जाना चाहिए था। लेकिन बीएलओ की मनमानी से एक भी दिन अभी तक नासोपुर, में बीएलओ के द्वारा शिविर का कैंप नहीं लगाया गया। 18 नवंबर से नामांकन की प्रक्रिया तय की गई है जो कि 25 नवंबर तक निर्धारित तय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.