Blog

पर्यावरण और जिन्दगी का एक गहरा व अटूट संबंध है-रबिन्द्र पांडेय।

पर्यावरण और जिन्दगी का एक गहरा व अटूट संबंध है कि दोनों ही एक दुसरे से,एक दुसरे के बिना प्रभावित होते रहते है
आईए कुछ इस तरह से समझते हैं।
मानव जीवन यापन करता है पर्यावरण में और उसे मुख्य रूप से जिन्दगी जीने के लिये चाहिए होता है आक्सीजन , आक्सीजन संभव तभी है जब हो वृक्षारोपण और हम सभी लोग वृक्षारोपण करते हैं|अब बात पर्यावरण की करते है
पर्यावरण और मानव जीवन में अटूट संबंध है जो आपस के सामंजस्य (संतुलन) से चलता है|पर्यावरण संतुलन के लिये आवश्यक है वृक्षारोपण जो हमे करना चाहिए |

अतः आप सभी लोगों से अनुरोध है की इससे और भी लोगों को जोडे और प्रतिक्रिया के तौर पर प्रोत्साहन प्रदान करे|

रेज फाउंडेशन किसान यूनियन राष्ट्रीय अध्यक्ष रवीन्द्र पाण्डेय
🙏🏻🙏🏻 आप लोगों को बहुत बहुत धन्यवाद 🙏🏻🙏🏻

Leave a Reply

Your email address will not be published.